मुजफ्फरपुर में बड़ा हादसा, कुरकुरे-नूडल्स फैक्ट्री में बॉयलर फटने से 7 की मौत, कई घायल

बेला औद्योगिक क्षेत्र के फेज-टू में रविवार की सुबह साढ़े नौ बजे इशान स्नैक्स फैक्ट्री का ब्वॉयलर फटने से सात लोगों की मौके पर मौत हो गई। नौ लोग घायल हो गए। पांच की गंभीर स्थिति में एसकेएमसीएच में इलाज चल रहा है। शाम तक सात लाशें निकाली जा चुकी हैं। आशंका है कि यह संख्या और बढ़ सकती है। वहीं दर्जन भर अन्य जख्मियों को प्राथमिक इलाज के बाद घर भेजा गया है। जोरदार धमाका होने के कारण आसपास के भवनों और उद्योगों को भारी क्षति हुई है। बियाडा के ईडी ने पूरे मामले की जांच का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने सभी मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया है। घटना के बाद से फैक्टी के मालिक विकास मोदी और विक्रम मोदी फरार हैं।

सुबह लगभग साढ़े नौ बजे बेला में जोरदार धमाका होने से एक किलोमीटर के आसपास का इलाका दहल गया। फेज-2 स्थित इशान स्नैक्स एण्ड नमकीन प्राइवेट लिमिटेड की फैक्ट्री में मेंटनेंस वर्क के दौरान ब्वॉयलर फट गया। इससे इतना जोरदार धमाका हुआ कि कई लोगों के चीथड़े उड़ गए। लाशों के कई टुकड़े हो गए। शाम तक प्रशासन ने सात लोगों की मौत की पुष्टि की है। यह संख्या और बढ़ सकती है। अभी फैक्ट्री से मलबा हटाने का काम जारी है। मरने वाले मुजफ्फरपुर के आसपास के इलाकों के साथ ही पश्चिमी चंपारण सहित अन्य जिलों के भी बताए गए हैं। अभी सभी लाशों की पहचान नहीं हो सकी है।

परिजनों के आने का सिलसिला लगातार जारी है। घटनास्थल पर चीख पुकार मची हुई है। भीषण धमाका होने के कारण उस फैक्ट्री के बगल में लगी चूड़ा फैक्ट्री के दो कर्मियों की मौत भी मौके पर हो गई। उसके अलावा आसपास की कई फैक्ट्रियों के कई कर्मचारी घायल हो गए हैं। साथ ही कई भवनों की भारी क्षति हुई है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि धमाका होने के कारण आसपास के घरों की दीवारें हिल गईं। टीवी के साथ ही शीशा के कई सामान टूट गए।

घटनास्थल पर मची है अफरातफरी
धमाके के बाद से घटनास्थल पर अफरातफरी मची है। फैक्ट्री के हेड ऑपरेटर ललन यादव की मौके पर मौत हो गई। वह छपरा के रसूलपुर थाना के खजूलपुर गांव का निवासी थे। उसी फैक्ट्री में काम करने वाला उसका बेटा विनोद यादव घायल है। घायल विनोद ने बताया कि ब्वॉयलर साफ करने के दौरान फट गया है। बार-बार कहने के बाद भी फैक्ट्री के मालिक कई महीनों से ब्वॉयलर नहीं बदल रहे थे।

डीएम-एसएसपी को झेलना पड़ा विरोध
घटना के बाद बड़ी संख्या में मौके पर लोग पहुंच गए। कुछ देर के बाद डीएम प्रणव कुमार और एसएसपी जयंतकांत पूरे दल बल के साथ मौके पर पहुंचे। अधिकारियों के आते ही लोगों ने बवाल शुरू कर दिया। डीएम और एसएसपी को लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। बवाल शांत करने के लिए पुलिसकर्मियों को लाठी भी चलानी पड़ी।

ईडी ने दिया जांच का आदेश
बियाडा के कार्यकारी निदेशक एसके सिन्हा ने कहा कि पूरे मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। उद्योग विभाग की टेक्निकल टीम भी मौके पर पहुंच कर घटना के कारणों की जांच करेगी। सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर जांच की जाएगी।

दोषी बख्शे नहीं जाएंगे : डीएम
मुजफ्फरपुर डीएम प्रणव कुमार का कहना है कि, अब तक सात लोगों की लाश मिल चुकी है। सभी मृतकों की पहचान की जा रही है। विभिन्न बिन्दुओं पर घटना की जांच की जा रही है। दोषियों की बख्शा नहीं जाएगा। मुख्यमंत्री के आदेश के बाद सभी मृतकों को चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि उपलब्ध करोन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *