बेरोजगारी में बिहार नंबर 1, नौकरी मांगने वालों में सेकंड पोजीशन, 1.96 करोड़ श्रमिकों ने कराया निबंधन

नौकरी मांगने में बिहारी देश भर में आगे, 1.96 करोड़ श्रमिकों ने कराया निबंधन : पटना: बिहार के लोग नौकरी मांगने में आगे हैं। ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के रजिस्ट्रेशन में सूबे को तीसरा स्थान मिला है। शनिवार तक की रिपोर्ट के मुताबिक सूबे के विभिन्न जिलों से 1.96 करोड़ श्रमिकों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। इन श्रमिकों का आधार कार्ड की तरह श्रमिक कार्ड बनेगा।

इससे निबंधित इन श्रमिकों को दूसरे राज्यों में भी समान रूप से योजना का लाभ मिल सकेगा। इन्हें 2 लाख रुपए का बीमा भी मिलेगा। अगर, किसी श्रमिक की असामयिक मौत होती है तो आश्रतों को यह तत्काल यह राशि मिलेगी। देश भर में 38 करोड़ 37 लाख 44 हजार असंगठित क्षेत्र के निबंधन का लक्ष्य है। फिलहाल उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 7.38 करोड़ श्रमिकों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है। दूसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल है। यहां 2.39 श्रमिकों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। वहीं, बिहार में 3.49 करोड़ श्रमिकों के निबंधन का लक्ष्य तय है।

26 अगस्त से हो रहा निबंधन

ई-श्रम पोर्टल पर 26 अगस्त से रजिस्ट्रेशन शुरू है। इस दिन से देश भर के असंगठित मजदूर अपना रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं। इसकी अंतिम तिथि पहले 31 दिसंबर तक ही थी, जिसे बढ़ा दिया गया है। रजिस्ट्रेशन का लक्ष्य पूरा करने के लिए स्टेट एडमिन बनाया गया है। ये जिलावार डेटा का मूल्यांकन और अनुश्रवण कर रहे हैं।

बिहार के जिलावार रजिस्टर्ड श्रमिक

समस्तीपुर- 8.86 लाख, मुजफ्फरपुर-8.61 लाख, पूर्वी चंपारण-8.33 लाख, मधुबनी-8.24 लाख, दरभंगा-8.15 लाख, गया-7.82 लाख, पटना-7.63 लाख, पश्चिम चंपारण-7.52 लाख, सारण-6.84 लाख, अररिया-6.73 लाख, कटिहार-6.71 लाख, पूर्णिया-6.52 लाख, वैशाली-6.35 लाख, सीवान-5.95 लाख, रोहतास-5.73 लाख, भागलपुर-5.64 लाख, सीतामढ़ी-5.5 लाख, गोपालगंज-5.53 लाख, सुपौल-5.48 लाख, बेगूसराय-5.26 लाख, औरंगाबाद-5.23 लाख, मधेपुरा-4.88 लाख, जमुई-4.50 लाख, बांका-4.50 लाख, नालंदा-4.44 लाख, सहरसा-4.43 लाख, भोजपुर-4.42 लाख, किशनगंज-3.83 लाख, कैमूर-3.36 लाख, नवादा-3.31 लाख, खगड़िया-3.24 लाख, बक्सर-3.20 लाख, मुंगेर-2.23 लाख, लखीसराय-1.75 लाख, अरवल-1.31 लाख, शिवहर-1.05 लाख, शेखपुरा-1 लाख।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *