बिहार: यूनिवर्सिटी की लापरवाही से छात्रों के हाथ से निकला चार हजार नौकरियों का मौका, जिम्मेदार कौन?

बीआरए बिहार विवि के छात्रों के हाथों से चार हजार नौकरियां निकल गईं। इन नौकरियों में आवेदन करने के लिए छात्रों के पास स्नातक की डिग्री नहीं है। इंस्टीच्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सेलेक्शन (आइबीपीएस) ने बैंक पीओ और मैनेजमेंट ट्रेनी के 4335 पदों पर रिक्तियां जारी की हैं। इन नौकरियों में आवेदन करने के लिए छात्रों को दस नवंबर तक स्नातक की डिग्री पास में होनी चाहिए, लेकिन बिहार विवि के सत्र 2018-21 के 60 हजार छात्रों की अब तक परीक्षा नहीं हुई है। छात्रों ने अब तक परीक्षा फॉर्म भी नहीं भरा है। इसलिए वह नौकरी की परीक्षा देने से पहले ही छंट गये हैं। इस सत्र की अंतिम वर्ष की परीक्षा जून में होनी थी।

avi news, avi news bihar, avi news live, avu news, abhi news, abhi news live, avi news info,

अपीयरिंग के रूप में भी फॉर्म नहीं भर सकते छात्र 

आइबीपीएस की तरफ से जारी इन रिक्तियों में अपीयरिंग के तौर पर भी छात्र फॉर्म नहीं भर सकते हैं। आइबीपीएस की तरफ से कहा गया है कि जिन अभ्यर्थियों के पास दस नवंबर तक स्नातक पास की डिग्री हो, वही आवेदन कर सकते हैं। आइबीपीएस बैंक पीओ और मैनेजमेंट्र ट्रेनी की परीक्षा चार और 11 दिसंबर को करायेगा। परीक्षा का रिजल्ट जनवरी में घोषित किया जायेगा।

इसी महने से भरे जायेंगे परीक्षा फॉर्म : परीक्षा नियंत्रक

“पार्ट थ्री के परीक्षा फॉर्म इसी महीने से भरे जायेंगे। इसके लिए तैयारी की जा रही है। परीक्षा फॉर्म भरने की तारीख तय है। इस पर कुलपति से आदेश लेकर जारी कर दिया जायेगा। फॉर्म भरने के बाद जल्द ही परीक्षा लेकर रिजल्ट भी जल्दी जारी करने का प्रयास किया जायेगा।” 

इससे पहले भी चूके हैं एसबीआई पीओ बनने से वंचित

इससे पहले भी चूके हैं एसबीआई पीओ बनने से बिहार विवि के छात्र इससे पहले भी एसबीआई पीओ बनने से चूक गये। एसबीआई ने सितंबर में पीओ की वैकैंसी निकाली थी। इसमें भी छात्रों को अगस्त तक स्नातक पास कर जाना था, लेकिन परीक्षा नहीं होने और फॉर्म भी नहीं भराने से छात्र सुनहरा मौका से वंचित रह गये। छात्रों का कहना है कि परीक्षा नहीं होने से हम लगातार नौकरी के आवेदन में पिछड़ रहे हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *